अच्छी संतान प्राप्ति के लिए शिवलिंगी बिज

शिवलिंगी बीज क्या है ? कैसे करे इसका सही इस्तमाल हिंदी में

Last Updated on

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारे कैसे करें मैं और आज का हमारा विषय है, शिवलिंगी बीज की जानकारी के बारे में |

दोस्तों शिवलिंगी बिज का इस्तमाल एक अच्छी संतान और पुत्र प्राप्ति के लिए किया जाता  है, जिन लोगों में बांझपन और काफी सालों से प्रयास करने  के बाद भी अगर उन लोगों को पुत्र प्राप्ति नहीं हो रही है तो वह लोग शिवलिंगी बीज से पुत्र प्राप्ति कर सकते हैं, ऐसा कहा जाता है इसे putrajeevak नाम से भी जाना जाता है |

ऐसा कहा जाता है पुराने समय में जब किसी महिला के शरीर में और किसी पुरुष के शरीर में किसी प्रकार की कमियां होती थी जिसकी वजह से वह पुत्र प्राप्ति नहीं कर पाते थे, तो वह लोग शिवलिंगी के बीज को खाकर अच्छी संतान प्राप्त कर लेते थे, इसीलिए यह शिवलिंगी बीज काफी समय से चली आ रही है और यह 100% आयुर्वेदिक होती है जिसको लेने से किसी भी प्रकार से आपके शरीर पर साइड इफेक्ट नहीं होते हैं |

इस बीज के इस्तेमाल से आप अपनी इच्छा अनुसार एक अच्छी संतान और पुत्र प्राप्त कर सकते हैं | शिवलिंगी बीज के सेवन से महिलाओं का शरीर एक्टिव होता है और हार्मोन बैलेंस होने लगते हैं जिसकी वजह से महिलाओं में आने वाली महावारी यानी कि पीरियड की अनियमितता ठीक हो जाती है |

तो आइए आगे की जानकारी में हम आपको बताने वाले हैं कि शिवलिंगी के बीज को कैसे खाएं जिससे आप जल्द से जल्द असरदार फायदा ले सकते हैं |

 शिवलिंगी बीज कैसे खाएं ? Shivlingi Beej use in Hindi :

दोस्तों जनवरी के महीने में शिवलिंगी बीज पेड़ पर आ जाते हैं जो काफी सूख जाते हैं | ज्यादा ठंड होने की वजह से वह सूखने लगते हैं तो आपने उस बीजो को तोड़ तोड़कर उसकी पाउडर बनानी है | और  सुखाकर उस पाउडर को आपने 1 महीने तक दूध के साथ लेना होता है |

100 ग्राम पाउडर में आपने महीने के हिसाब से 30 हिस्से कर लेने हैं और हर एक हिस्सा रोजाना दूध के साथ ले | जिस वक्त आप शिवलिंगी बीज का सेवन कर रहे होते हैं, उस वक्त आपको नॉनवेज, शराब, सिगरेट, अमली पदार्थ, नमकीन और मसालेदार पदार्थ खाना बंद कर देना है, जिसकी वजह से शिवलिंगी बीज आपके शरीर में जल्द से जल्द पाचन हो जाता है और आपके शरीर को उसका फायदा होता है |

शिवलिंगी बीज का सेवन सिर्फ महिलाओं के लिए नहीं है बल्कि शिवलिंगी के बीजों को पुरुष ने भी सेवन करना है जिससे उनकी मर्दानी ताकत मजबूत हो जाती है, वीर्य का पतलापन दूर हो जाता है | और पुरुष और स्त्री में अच्छी तरह उर्जा उत्पन्न हो जाती है और उस एनर्जी के बलबूते पर वह एक अपनी इच्छा के अनुसार अच्छी संतान और पुत्र पुत्री प्राप्ति कर लेते हैं |

शिवलिंगी बीज का इस्तेमाल करने के फायदे : Shivlingi beej benefits in Hindi :

  • अगर महिलाएं इस बीज का इस्तेमाल कर रही है, तो उनका बाँझपन दूर हो सकता है |
  • जिन पुरुषों में मर्दाना ताकत कम हो जाती है, उन पुरुषों के लिए शिवलिंगी का बीज यह अमृत से कम नहीं है |
  • शिवलिंगी के बीज के सेवन से पुरुषों का वीर्य गाढ़ा हो जाता है |  और शुक्राणु बढ़ जाते हैं |
  • महिलाओं की मासिक महावारी यानी पीरियड की अनियमितता ठीक हो जाती है |
  • पीरियड सही समय पर आने लगते हैं और खत्म होने लगते हैं |
  • जिन लोगों में काफी मोटापा है या काफी वजन कम है उन लोगों का वजन कंट्रोल में रहता है |
  • यह बीज का सेवन पाचन क्रिया को मजबूत करता है और उसमें सुधार लाता है |
  • यह बीज का सेवन महिला के शरीर को मजबूती देता है और एक अच्छी संतान पैदा करने के लिए का बिल बनाता है |
  • इस बीज के सेवन से इंसान के शरीर के हार्मोन बैलेंस रहते हैं |
  • शिवलिंगी के बीज के सेवन से इंसान अपने शारीरिक संबंधों में सुधार ला सकता है |

शिवलिंगी बीज संतान प्राप्ति हेतु कैसे इस्तेमाल करें ? Shivlingi Beej For pregnancy in Hindi :

दोस्तों जैसे कि हमने आपको कहा कि 100 ग्राम बीज को लेकर उसका पाउडर बनाना है और उस पाउडर को 30 हिस्सों में बांट लेना है यानी कि चोगम पाउडर को आपको 30  दिनों तक लेना होता है | यानी कि रोजाना आपको तीन या चार ग्राम पाउडर दूध के साथ सेवन करना होता है | इस पाउडर को आप सुबह उठने के बाद दूध के साथ ले सकते हैं|  या फिर रात को सोते समय लेना भी सही होता है |

इस पाउडर को 30 दिन लगातार लेने के बाद जब महिला को महावारी यानी कि पीरियड्स आते हैं, उसके पांचवे दिन बाद शारीरिक संबंध बनाए |  जिससे आपको एक अच्छी संतान प्राप्त होती है | और जब महिला गर्भवती होती है तो उस दौरान कभी भी शारीरिक संबंध ना बनाएं |

30 दिन बाद जवाब शारीरिक संबंध बनाते हैं , तो महिलाओं के पेट में गर्भ धारण हो जाता है तो और आपको 3 महीने तक शिवलिंगी बीज का सेवन करते रहना होता है |  और अपने डॉक्टर से उस गरबो की रेगुलर चेकिंग करते रहना आवश्यक होता है | शिवलिंगी बीज को लेकर आपको काफी सारे प्रकार के एक्सरसाइज भी करने जरूरी होते हैं | और सबसे अधिक ध्यान आपके भोजन के ऊपर रखना होता है जैसे कि नॉनवेज शराब सिगरेट इन बुरी आदतों को दूर ही रखना सही होता है |

आप साधारण भोजन भी खाते हो तो उसमें ज्यादा नमकीन, या ज्यादा मसालेदार , या ज्यादा आवेली पदार्थो का सेवन बंद कर दे | अगर आप बताए गए जानकारी के अनुसार क्रिया करते हैं तो आप सच में एक अपनी इच्छा के अनुसार अच्छी संतान प्राप्त कर सकते हो |

पतंजलि शिवलिंगी बीज : Patanjali Shivlingi Beej :

दोस्तों पतंजलि के वैज्ञानिकों ने शिवलिंगी के फल का यानी शिवलिंगी के बीज का 100% आयुर्वेदिक नेचुरल हर्बल तरीके से पाउडर बनाकर उसे बाजार में पेश किया है और उस शिवलिंगी के बीजों को कई प्रकार से उन लोगों ने टेस्ट किया है कि असलियत में यह काम करते हैं या नहीं और पूरी तरीके से टेस्ट करने के बाद उन्होंने यह यकीन के साथ दावा किया है कि शिवलिंगी बीज के सेवन से आप अपनी इच्छा अनुसार संतान प्राप्ति कर सकती है |  या फिर जिन महिलाओं में बांझपन है या पुरुषों में बांझपन है उनकी वह परेशानी दूर होकर शिवलिंगी के बीज के सेवन की मदद से वह एक अच्छी संतान पा सकते हैं | इसे पतंजलि पुत्रजीवक के नाम से भी जाना जाता है |

तो पतंजलि ने इस दवाई को बनाने के लिए किसी भी प्रकार की अन्य पदार्थों का इस्तेमाल नहीं किया है | और यह  पतंजलि शिवलिंगीी आपको पतंजलि के किसी भी मेडिकल स्टोर पर आसानी से मिल सकते हैं | जो कि ज्यादा महंगी नहीं है कोई भी आम आदमी इसे खरीद सकता है | खरीदने के पहले अपने डॉक्टर की सलाह ले लें और उस हिसाब से पतंजलि शिवलिंगीी बीज का इस्तेमाल करें |

नोट : ऊपर दी हुई जानकारी केवल आपकी जानकारी के लिए है, आपको किसी भी प्रकार का तरीके का इस्तमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह ले , और यह बिज से संतान (पुत्री और पुत्र) प्राप्ति होती है | आपको अगर बच्चा नहीं हो रहा है तो आपको इसकी सहायता लेनी चाहिए डॉक्टर की सलाह से | आपको बच्चा और बच्ची में कोई भेदभाव नहीं करना है | आगर चलकर इस दुनिया बच्चियों की संख्या कम हो रही है अगर आपको बच्चा चाहिए, तो आप इससे अपने बच्चियों पर अन्याय ना करे | पुत्री है तो पुत्र आगे चलकर बच्चो को जन्म दे पायेगा वरना नहीं |

हमारा इससे कोई समर्थन नहीं है | हमने यह जानकारी केवल आपके जानकारी प्राप्ति के लिए दी है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *