शत्रु को मित्र बनाने का टोटका

शत्रु को मित्र बनाने का टोटका

नमस्ते दोस्तों, आज हम आपको शत्रु को मित्र बनाने का टोटका बताने वाले हैं | हमारे जिंदगी में हमें बहुत सारे दोस्त होते हैं, लेकिन कई बार किसी दोस्त के साथ हमारा झगड़ा हो जाता है | किसी दोस्त के साथ झगड़ा होने के बाद हमारी उस दोस्त के साथ पूरी तरह से दुश्मनी हो जाती है, जिसके कारण कुछ दिनों के बाद हमें पछतावा होकर उस दोस्त से फिर से दोस्ती करनी होती है |

शत्रु को मित्र बनाने का टोटका
शत्रु को मित्र बनाने का टोटका

इसलिए आज हम आपको दुश्मन से दोस्ती कैसे करें इन हिंदी के बारे में जानकारी देने वाले  है, शत्रु को मित्र बनाने का टोटका अगर आप दोस्ती करने के लिए अपनाओगे तो आसानी से आपके बहुत सारे दोस्त हो जाएंगे | जिस व्यक्ति का आपके जिंदगी पर प्रभाव होता है उस व्यक्ति से कभी भी दुश्मनी नहीं करना चाहिए | क्योंकि ऐसे दोस्त कभी ना कभी फिर से आपके दोस्त होने वाले होते हैं, किसी दोस्तों को दुश्मन बनाने से अच्छा है दुश्मन को ही अपना दोस्त बनाना | जिंदगी में अगर हमेशा दुश्मनी करते रहोगे तो बार-बार आपको दुश्मन को वश में लाने के तरीके अपनाने पड़ेंगे | आज हम देखेंगे शत्रु को मित्र बनाने का टोटका |

शत्रु को मित्र बनाने का टोटका -:

  • जिस शत्रु को अपना दोस्त बनाना है उस दोस्त से पहले-पहले थोड़ी बातें करना शुरु कर दें, जिससे दुश्मन को दोस्त बनाने के लिए आप बजरंगबली के टोटके इस्तेमाल कर सकते हो | दुश्मन को दोस्त बनाने के लिए बजरंगबली के टोटके सबसे असरदार होते है |
  • जिस शत्रु को अपना मित्र बनाना है उसके साथ आपने हमेशा अच्छा बर्ताव करने की कोशिश करनी चाहिए | पहले पहले वह आपसे बात नहीं करेगा, जब आपका दोस्त आपसे बात नहीं करेगा तब आपने मंगलवार को और शनिवार रात को हनुमान जी के मंदिर में जाकर हनुमान जी को नारियल चढ़ाना चाहिए जिससे आपकी पूरी मनोकामना पूरी होगी और आपका शत्रु आपका दोस्त बन जाएगा |
  • हनुमान जी के टोटके और बजरंगबली के टोटके अपनाते समय आपको साबुन, मोर का पंख और सिंदूर की आवश्यकता होगी | सबसे पहले बजरंगबली की मूर्ति को अपने भगवान घर में लेकर आए और बजरंगबली की मूर्ति को सिंदूर से अच्छी तरह से माखले |
  • इसके बाद बजरंगबली के चरणों में आपने नारियल को १० मिनट रखना चाहिए और इस नारियल को खा लेना चाहिए | आप जितनी ज्यादा देर तक बजरंग बली की आराधना करोगे उतना बजरंगबली आप पर प्रसन्न होगा | बजरंगबली को प्रसन्न करने के लिए बजरंग बली की हनुमान चालीसा पढ़े |
  • यह सारी पूजा करने के बाद बजरंगबली के मूर्ति को किसी पानी में विसर्जित कर दें और बजरंगबली से प्रार्थना करें कि आपके शत्रु को फिर से आपका दोस्त बना दे | बजरंगबली से यह प्रार्थना अगर आप दिल से करोगे तो बजरंगबली आपकी प्रार्थना मान लेगा |
  • बजरंगबली की मूर्ति विसर्जित करते समय आपके दिल को कुछ अलग महसूस होगा क्योंकि जब कोई हमारा घर का मेहमान हम विसर्जित करने जाते हैं तब हमें बिलकुल अच्छा नहीं लगता है | लेकिन इस बात की चिंता ना करते हुए आपने बजरंगबली से प्रार्थना करनी चाहिए कि जिंदगी में आपके ज्यादा शत्रु ना बने | हर कोई आपका दोस्त बनकर आपके साथ रहे, जिससे आपकी दुश्मनी दोस्ती में परिवर्तित हो जाएगी |
  • यह सारे दुश्मन को दोस्त बनाने के बजरंगबली के टोटके हे | इन तरीकों को इस्तेमाल करके जिंदगी के किसी भी दुश्मन को आप आसानी से वश में कर सकते हो |

यह था शत्रु को मित्र बनाने का टोटका | दोस्तों अगर आपको हमें कोई सवाल पूछना है तो आप हमें नीचे दिए गए हुए कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हो |

Leave a Comment

error: Content is protected !!