सफेद मूसली के फायदे क्या है ? जानिए क्यों इसे देसी वियाग्रा कहते है ?

सफेद मूसली खाने की विधि सफेद मूसली क इस्तमाल वीर्यवर्धक (वीर्य बढ़ने की दवा),कामोद्दीपक (सेक्स पॉवर बढाने वाली) और यौवन शक्ति बढ़ने के लिए जितनी भी दवाईया और औषधि में इस्तमाल किया जाता है |

मुसली के प्रकार : Types of Musli in Hindi :

  1. काली मूसली : काली मुसली के फायदे कई सारे है | काली मुसली benefits हम बाद में आपको बतायेंगे |
  2. सफेद मूसली : सफेद मूसली के फायदे कई सरे है | तो आईये जानते है सफ़ेद मुसली benefits in hindi |

सफेद मूसली पाउडर के रूप में मिलती है उसको musli power extra capsules के नाम से भी जाना जाता है|

मूसली वनस्पति का उपयोग आयुर्वेदिक औषधि या आयुर्वेदिक जड़ी बूटी के रूप में किया जाता है। मूसली के पौधे की जड़ बिल्कुल मूसल जैसी होती है। इस मूसली का रंग सफेद होता है इसलिए इसे मूसली या मूसली कहा जाता है।

यह एक बहुत ही प्रसिद्ध जड़ी बूटी है जिसका उपयोग शरीर के कई रोगों के इलाज के लिए किया जाता है, मुख्य रूप से पुरूषों के यौन रोग के लिए (male sexual disease’s)।

वैसे तो इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है। भारतीय जिनसेंग (Indian Ginseng) या “देसी वियाग्रा” एक कामोत्तेजक दवा है जिसे प्राकृतिक वियाग्रा के विकल्प के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। इस “देसी वियाग्रा” का कोई अन्य प्रतिस्पर्धी नहीं है। सेक्स करने के लिए यह देसी वियाग्रा आपको घर पर ही मिल जाएगी। इसीलिए दुनिया में सफेद मूसली की काफी डिमांड है।

सफेद मूसली के फायदे : Benefits of Safed Musli in hindi :

  1. मुसली मधुर,वीर्य वर्धक है |
  2. स्वाद में कडवी होती है |
  3. एक उत्तम एंटीऑक्सीडेंट antioxidant है |
  4. इसका सेवन शरीर में उर्जा,शक्ति और बल बढ़ाती है |
  5. इसके इस्तमाल से शुक्र धातु को पुष्ट करती है |
  6. यह इम्युनिटी immunity को बढ़ाता है |
  7. इसका इस्तमाल से कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं है |

सफ़ेद मुसली का इस्तमाल कई यौन रोगों को और गुप्त रोग का इलाज करने के लिए भी किया जाता है |

सफेद मूसली का उपयोग: Safed Musli use in Hindi :

  • पेटदर्द का इलाज:

अगर आपके पेट में बहुत दर्द हो रहा है और आपको इसका कोई उपाय चाहिए तो सफेद मूसली आपके लिए काफी लाभदायी है | इसके लिए आपको काली मुसली और दालचीनी को एक समान मात्रा में लेकर इसको अच्छी तरह पीसकर 5 ग्राम इसका चूरन पानी के साथ लेने से पेटदर्द का इलाज आसानी से होता है |

सफेद मूसली पीने से पेट दर्द, अपच, दस्त और पाचन संबंधी समस्याएं दूर हो जाती हैं। इसके नियमित सेवन से महिलाओं के स्तनों में दूध की मात्रा बढ़ाने में मदद मिलती है।

  • मूत्र में जलन(पेशाब में जलन का इलाज):

जनन अंग जैसे की महिला की योनी और पुरुषो का लिंग में पेशाब के समय जलन हो रहा है | तो आपको सफेद मुसली और मिश्री एक समान मात्रा में लेकर इसको अच्छी तरह मिलाकर १० ग्राम चूर्ण में ३ बूंद चन्दन का तेल मिक्स करके कच्चे भैस के या गाय के दूध के साथ सुबह शाम लेने से आपको पेशाब में जलन का उपाय करने में मदत होगी| सफेद मूसली पुरुषों और महिलाओं दोनों में मूत्र संबंधी विकारों को दूर करने में मदद करता है।

  • बार बार पेशाब आने का इलाज :

अगर आपको बार बार पेशाब में जाने का हो रहा है तो आपको बार बार पेशाब आने का इलाज करना चाहिए इस के लिए आपको 2 ग्राम जायफल का चूर्ण और 5 ग्राम मुसली का चूर्ण या मुसली की पाउडर पानी के साथ पिने से आपका बार बार मूत्र आने की समस्या दूर हो जायेगी |

  • शीघ्रपतन का घरेलु इलाज :

अगर आपको वीर्य जल्दी गिरने की समस्या हो रही है और इसके कारन आपका सेक्स करने का समय कम हो रहा है तो आपको सेक्स करने का समय कैसे बढाया जाये इस बारे में सोचने की जरुरत है। लेकिन चिंता मत कीजिये, क्यूंकि सफ़ेद मुसली का उपयोग करके आप सेक्स का वक़्त बढा सकते हो| ५ ग्राम काली मुसली का चूरन, ४ रत्ती बंग भस्म को शहद में मिलाकर ४० दिन तक रोज सुबह शाम लेने से Shighrapatan की समस्या से छुटकारा मिल जाता है। यह इस आयुर्वेदिक इलाज होता है|

टिप्स : इसको लेने के बाद आपको आधे घंटे तक कुछ भी नहीं खाना है|

शीघ्रपतन की समस्या हो तो तुरंत दवा लेने की गलती कभी ना करें बल्कि पहले घरेलू उपाय आजमाएं। अगर आप रोजाना एक चम्मच सफेद मूसली का चूर्ण दूध के साथ लेते हैं, तो शुक्राणु गाढ़े होने लगते हैं और संभोग का समय बढ़ जाता है। इससे शीघ्रपतन की समस्या दूर हो जाती है। वर्तमान समय में शीघ्रपतन के इलाज के लिए बाजार में कई दवाएं उपलब्ध हैं। मुस्लीपक भी उनमें से एक है। शीघ्रपतन के अलावा इसका प्रयोग नपुंसकता के उपचार में भी उपयोगी है।

  • यौनशक्ति/सेक्स पावर बढ़ने के लिए उपाय :

अगर आपको सेक्स करने के वक़्त थकान मेहसूस होती अहि और इस के कारण अगर आप लड़की को खुश नहीं कर पारहे हो तो आपको आपकी सेक्स पावर को बढाने की जरुरत है | सेक्स पावर को बढ़ने के लिए आपको 5 ग्राम सफेद मुसली का चूर्ण या मुसकी पाउडर ,5 ग्राम पिसी हुई मिश्री सुबह खाली पेट और रात को खाना खाने के 2 घंटे बाद गरम दूध के साथ 2 महीने तक पीना है |

इसका सेवन करने से आपको शारीरिक कमजोरी,शीघ्रपतन की समस्या,यौनशक्ति की कमी,शिथिलता, धात में कमी आना यानिकी धातु रोग इत्यादि रोग दूर होते है |

  • दुबलापन का इलाज (बॉडी बढाने के लिए):

अगर कोई आपको दुबला पतला कहता है, तो आप सफेद मूसली का उपयोग करके अपने पतलेपन को ठीक कर सकते हैं। और अपने दुबलेपन का इलाज करके आप उन्हें बता सकते हैं कि आपका शरीर कैसा है। ऐसा करने के लिए ५० ग्राम अश्वगंधा, शतावरी, सफेद मूसली और मुलहठा लेकर इनका चूर्ण बना लें और इसमें १०० ग्राम दानेदार चीनी को अच्छी तरह से मिला लें। इसे सुबह और शाम दिन में दो बार ४० दिनों तक पीने से आपका शरीर हृष्ट-पुष्ट और शक्तिशाली हो जाएगा।

सफेद मुसली का महिलाओ के लिए फायदे: Benefits Of Safed Musli For Women in Hindi :

  • योनी का सूखापन दूर करने के लिए और योनी का सूखापन से बचने के लिए |
  • इसके इस्तमाल से आप जवान ही रहती हो ज्यादा देर तक |
  • महिला के स्थनों का दूध शुद्ध करने ब्रैस्ट का दूध बढाता है |
  • सफेद मुसली का थोडा इस्तमाल करने से बच्चे की और माँ के लिए nutritive tonic की तरह काम करता है गर्भावस्था में यानिकी प्रेगेनेंसी के पीरियड में |

अनियमित पीरियड्स आने की समस्या का समाधान |

2 thoughts on “सफेद मूसली के फायदे क्या है ? जानिए क्यों इसे देसी वियाग्रा कहते है ?”

Leave a Comment

error: Content is protected !!