रोग प्रतिकारक क्षमता बढ़ाने के घरेलू उपाय

नमस्ते दोस्तों, कैसे हो आप? दो साल पहले आई हुई कोरोना नाम की विश्व महामारी ने पूरी दुनिया की नींद उड़ा दी थी। पूरे ही विश्व में इस महामारी से कई लोग, कई देश प्रभावित हुए। उस महामारी के वक्त हमें हमारी इम्यूनिटी कितनी स्ट्रांग होनी चाहिए, इस बात का एहसास हुआ। इम्यूनिटी अगर अच्छी हो, तो आप किसी भी छोटी या बड़ी बीमारी से लड़ने में सक्षम होते हैं। हर वक्त आपको डॉक्टर की जरूरत नहीं पड़ती है। अगर आपका लाइफस्टाइल अच्छा हो, आप नियमित रूप से व्यायाम, योगासन करते हो और अपना आहार संतुलित रखते हो; तो आपकी शारीरिक क्षमता अच्छी रहती है और आप कई रोगों से लड़ने में सक्षम होते हैं। लेकिन, अगर आपकी इम्यूनिटी मतलब रोग प्रतिकारक क्षमता कमजोर हो तो आप छोटे से इंफेक्शन से भी प्रभावित हो जाते हैं।

हमें हमारी पूरी ही जिंदगी में कई सारे संक्रमण का सामना करना होता है। हम आज भी देखते हैं, पुराने जमाने के बुजुर्ग लोग आज भी बहुत अच्छी तरीके से रह रहे हैं और एक हेल्थी लाइफ जी रहे हैं। वह बहुत सालों तक जिंदा रहते हैं। हम सोचते हैं, कि यह कैसे पॉसिबल है!! हम तो अभी से ही थका हुआ महसूस करते हैं, एनर्जेटिक नहीं रहते हैं। ऐसा इसीलिए, क्योंकि बुजुर्ग लोगों की इम्युनिटी अच्छी होने की वजह से वह इतनी आयु तक जिंदा रहते हैं। तो दोस्तों चलिए, आज हम भी बुजुर्ग लोगों के इतने आयु तक जिंदा रहने के राज के बारे में जानते हैं। तो आइए, आज जानते हैं शारीरिक इम्यूनिटी बढ़ाने के कुछ घरेलू नुस्खे।

रोग प्रतिकारक क्षमता बढ़ाने के घरेलू उपाय

इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए ऐसे बहुत सारे घरेलू इलाज मिल जाएंगे। जो कि, प्रभावी भी है, आसान भी है और साइड इफेक्ट्स से रहित है।

  1. विटामिन्स की सही मात्रा- हमारे शरीर में विटामिन्स की उचित मात्रा होना बहुत ज़रूरी होता है। विटामिन डी हमारी हड्डियों को मजबूत रखता है और हार्ट प्रॉब्लम्स को दूर रखने में भी असरदार होता है। इम्युनिटी की अगर बात हो रही हो और विटामिन सी की बात ना हो! ऐसा कैसे हो सकता है? जी हां! विटामिन सी से हमारे व्हाइट ब्लड सेल्स अच्छे से काम करती हैं और उससे हमारी इम्युनिटी अच्छी रहती हैं। संतरा, नींबू, मौसंबी, स्ट्रॉबेरी, जामुन, आंवला, पालक ऐसी अनगिनत पदार्थो में विटामिन सी अधिक मात्रा में पाया जाता है।
  2. हैल्थ ड्रिंक्स- ग्रीन टी, ब्लैक टी, लेमन टी यह ड्रिंक्स हमारे शरीर के लिए बहुत ही उपयुक्त साबित हुई हैं। आजकल के मॉडर्न युग में इनको बनाना भी आसान होता है और इनको पीना भी फायदेमंद होता है। इन ड्रिंक्स में भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। जो हमारे इम्युनिटी के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं। ग्रीन टी हमारे पेट संबंधित समस्याएं और मस्तिष्क की समस्याओं में कारगर साबित हुई है। यह टी पीने की वजह से हमारा वजन भी नियंत्रित रहता है और हम मोटापे से बच सकते हैं। इसी के साथ, आप हमेशा ही उबला हुआ गुनगुना पानी पिए। इससे आपके पाचन तंत्र को मजबूती मिलती है।
  3. दूध- दूध को आयुर्वेद में पूर्ण अन्न कहा गया है। इसमें कई तरह के विटामिंस, शुगर और प्रोटीन शामिल होते हैं। दूध को हल्दी और शहद के साथ पीने से हमारी इम्युनिटी बढ़ती है। इस दूध को “गोल्डन मिल्क” भी कहते हैं। दूध पीने से हमें प्रोटींस, विटामिंस की उचित मात्रा में मिलती है।
  4. लहसुन- लहसुन खाने से भी हमारी इम्यूनिटी बिल्डअप होती है। लहसुन में विटामिन, ज़िंक, सल्फर, सेलेनियम जैसे तत्व मौजूद होते हैं जो हमारी इम्युनिटी को बढ़ाने में सहायक होते हैं।
  5. अलसी- अलसी में ओमेगा 3, फैटी एसिड, अल्फा लिनोलेनिक एसिड जैसे तत्व मौजूद होते हैं। जो हमारे इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए काफी फायदेमंद साबित होते हैं। अलसी को “इम्यूनिटी बूस्टर” भी कहा जाता है। अलसी हमें कई रोगों से लड़ने के लिए शक्ति प्रदान करती है।
  6. संतुलित आहार- इम्युनिटी को अच्छा बनाए रखने के लिए हमें हमारा आहार संतुलित रखना आवश्यक होता है। हमारे आहार में दही, हरी सब्जियां, अलग अलग प्रकार की रोटियां, छिलके वाली दाल, साबुत अनाज, स्प्राउट्स, दाल और सब्जियों के सूप, चावल, पनीर, दही, छांछ जैसे पदार्थों का समावेश होना आवश्यक होता है। ऐसा कहते हैं, कि हमारा आहार जितना रंगबिरंगी होगा, उतनी ही अच्छी हेल्थ हमारी होगी। इसका मतलब, हर प्रकार की सब्जियां तथा हर प्रकार के अनाज को आप अपने आहार का हिस्सा बनाएं। इसी के साथ आप रोजाना च्यवनप्राश खा सकते हैं। दोस्तों, इम्युनिटी को अच्छा बनाए रखने के लिए आप अपनी जिंदगी से जंग फूड, कोल्ड ड्रिंक्स जैसे चीजों को निकाल कर फेंक दें। यह चीजें खाने में तो अच्छी लगती है, लेकिन उनका हमारे शरीर पर बहुत ही बुरा असर पड़ता है। इनको खाने से हमारा वजन नियंत्रित नहीं रहता है और हमें कई सारे रोग भी जड़ जाते हैं।
  7. काढ़ा- दोस्तों, कोरोना काल में सेहत और इम्यूनिटी से भरा काढ़ा काफी प्रसिद्ध हुआ था। इसमें तुलसी के पत्ते, दालचीनी, लौंग, इलायची, कालीमिर्च, अदरक जैसे पदार्थ शामिल होते हैं। इन सब चीजों को पानी में उबाल लें और उबलने के बाद शहद मिलाकर पी सकते हैं। इस काढ़े में ज्यादा मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स, एंटीबैक्टीरियल गुण, एंटीसेप्टिक, एंटीवायरल गुण शामिल होते हैं। जिसकी वजह से हम रोगों से लड़ने की शक्ति पा सकते हैं और हमारी इम्यूनिटी बढ़ने में मदद मिलती है।
  8. योग प्राणायाम- दोस्तों, खाने की चीजों के साथ ही हमें हररोज दिन में कम से कम एक घंटे तक एक्सरसाइज, योग, प्राणायाम करना या कम से कम वॉक करना चाहिए। योग, प्राणायाम करने से हमारे शरीर की कार्यप्रणाली ठीक से काम करती है और हमारी इम्यूनिटी अच्छी बनी रहती है। जिन लोगों को डायबिटीज, हार्ट की प्रॉब्लम है; उन लोगों को हररोज व्यायाम करना बहुत आवश्यक होता है।
रोग प्रतिकारक क्षमता बढ़ाने के घरेलू उपाय
रोग प्रतिकारक क्षमता बढ़ाने के घरेलू उपाय

जिंदगी को भरपूर जीने के लिए हमें हमारी सेहत अच्छी होना बहुत ही आवश्यक होता है। इसीलिए, अपनी सेहत का अच्छे से ख्याल रखें और अपने इम्यूनिटी को बरकरार रखे। अपनों के साथ एक सेहत भरी अच्छी जिंदगी जिये। उम्मीद है, आपको आज का यह ब्लॉग रोग प्रतिकारक क्षमता बढ़ाने के घरेलू उपाय अच्छा लगा हो। धन्यवाद।

Leave a Comment

error: Content is protected !!