प्रेगनेंसी का तीसरा महीना की जानकारी

प्रेगनेंसी का तीसरा महीना की जानकारी

प्रेगनेंसी का तीसरा महीना
प्रेगनेंसी का तीसरा महीना

प्रेगनेंसी का तीसरा महीना , प्रेगनेंसी के हर महीने में महिला के शरीर में विविध बदलाव होते रहते हैं, हर महिला में विभिन्न प्रकार के लक्षण भी दिखाई देते हैं | लेकिन देखा जाए तो महिला के पेट में जो बच्चा होता है उसका विकास हर महिला के पेट में सेम होता है | प्रेगनेंसी का तीसरा महीना की जानकारी लेते वक्त आपने छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखना चाहिए जैसे कि अगर आपके पेट में गैस तैयार होती हो तो अपने जल्द से जल्द इस परेशानी को दूर करना चाहिए |

क्योंकि दूसरे महीने से पेट में गैस तैयार होने लगती है, पेट में गैस तैयार ना होने के लिए आपने शतावरी, बींस इन जैसे कार्बोहाइड्रेट युक्त पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए | प्रेग्नेंसी का तीसरा महीना मतलब पहला ट्राइमेस्ट खत्म होना, इसलिए प्रेगनेंसी के तीसरे महीने में प्रेग्नेंट महिला को ज्यादा देखभाल की जरूरत होती है | प्रेगनेंसी के तीसरे महीने के बाद फैमिली मेंबर्स ने प्रेग्नेंट महिला की ज्यादा से ज्यादा निगाह रखनी चाहिए, आज हम देखेंगे प्रेगनेंसी के तीसरे महीने की जानकारी |

प्रेगनेंसी के तीसरे महीने की जानकारी -:

  1. गर्भावस्था के तीसरे महीने में आपने आपके आहार पर ज्यादा से ज्यादा ध्यान देना चाहिए, प्रेगनेंसी का तीसरा महीना में आपने विटामिन बी ६ से बने हुए पदार्थों का सेवन करना चाहिए, क्योंकि विटामिन बी ६ तीसरे महीने से महिला के शरीर के लिए बहुत ही उपयुक्त होता है | आपने खट्टे फल, अंडे, हरी सब्जियां ,और आलू जैसे पदार्थों का सेवन करना चाहिए | इन चीजों में विटामिन बी ६ भरपूर मात्रा में होता है |
  2. गर्भावस्था के तीसरे महीने में आपने आपके शरीर में विटामिन की कमी बिल्कुल नहीं होने देनी चाहिए, इस समय आपने आजा फलों का ज्यादा से ज्यादा सेवन करना चाहिए | फलों का सेवन करने से आपके शरीर को ऊर्जा मिलती है, ऊर्जा बरकरार रखने के लिए आपने आपके आहार में अनाज, आटा, चावल, आलू, इन जैसी चीजों को खाना चाहिए |
  3. गर्भावस्था के तीसरे महीने में आपने बार बार चेकअप करवाना चाहिए, अगर आपने अभी तक यूरिन टेस्ट नहीं की है तो गर्भावस्था के तीसरे महीने में यूरिन टेस्ट, डायग्नोस्टिक टेस्ट, ब्लड प्रेशर चेक अप, शुगर चेक अप, इन जैसे टेस्ट आपने करवा लेना चाहिए | जिससे किसी भी समस्या से पहले आपको ठीक किया जा सकता है |
  4. गर्भावस्था के तीसरे महीने में शारीरिक परिवर्तन को आपने एक्सेप्ट करना चाहिए, अगर आप किसी बात की चिंता करती हो तो आपने चिंता बिल्कुल नहीं करनी चाहिए |
  5. आपने हर रोज एक्सरसाइज करनी चाहिए, एक्सरसाइज करने से आपके शरीर की मांसपेशियां बिल्कुल स्ट्रांग होने में मदद होती हें |
  6. गर्भावस्था के तीसरे महीने में मां को महसूस होने लगता है कि उसके पेट में बच्चा पल रहा है, गर्भाशय में बच्चा लात भी मार सकता है| इस तरह अनेक शारीरिक परिवर्तन शरीर में और पेट में होते हैं |

प्रेगनेंसी का तीसरा महीना की जानकारी |

Leave a Comment

error: Content is protected !!