नाक में जलन होने के घरेलू उपाय

Must read
कैसे करे
कैसे करे
दोस्तों हम सभी जानकारी केवल आपके लिए ही दे रहे है , आप हमें सहायता करेंगे और आपका साथ हमेशा देंगे इसकी उम्मीद करते है |

नमस्ते दोस्तों, कैसे हो आप? आज कल हम बड़ी आसानी से एलर्जी का शिकार हो जाते हैं। मौसम बदलते ही हमें सर्दी, खांसी, बुखार होने लगता है। इसका एक कारण हमारी कमजोर इम्युनिटी भी होती हैं। आजकल हम हेल्थी खाना कहां खाते हैं? जब देखो तब हम जंक फूड, बर्गर, पिज़्ज़ा, सेंडविचेस, कोल्ड ड्रिंक्स ऐसे पदार्थों का सेवन करते रहते हैं। ऐसे में पूरा पोषण ना मिलने से हमारी इम्यूनिटी भी कमजोर हो जाती है। ऐसे में, हमारी शारीरिक कार्यप्रणाली भी ठीक से काम नहीं करती हैं। तोह चलिए नाक में जलन होने के कारन जानते है और उपाय भी देखते है।

इम्युनिटी कमजोर होने की वजह से हम किसी भी बीमारी का जल्द ही शिकार हो जाते हैं। नाक में जलन होना यह एक एलर्जी का प्रकार हो सकता है। मौसम में बदलाव, मेडिसिन, एलर्जिक राइनाइटिस या नाक में इरीटेशन होने से नाक में जलन हो जाती है। ऐसे में, नाक की इंटर्नल लाइनिंग सेंसेटिव हो जाती है और नाक में जलन शुरू हो जाती है। दोस्तों, आज हम बात करनेवाले हैं नाक में जलन के कारण और उनके घरेलू इलाज।

नाक में जलन होने के कारण

एलर्जी, धूल और प्रदूषण या किसी संक्रमण से नाक की इंटर्नल लाइनिंग में इरीटेशन होता है और नाक में जलन होने लगती है। नाक में जलन होने के अन्य कारण भी होते हैं।

  1. एलर्जिक राइनाइटिस- इस एलर्जी के दौरान छींके आने लगती हैं। इसी के साथ, प्रदूषण और धूल मिट्टी की वजह से नाक में सूजन, खुजली तथा जलन हो जाती हैं। मौसम बदलते ही यह एलर्जी ज्यादा देखने को मिलती हैं।
  2. मौसम में बदलाव- कई बार मौसम बदलते ही हवा ड्राई हो जाती है। इससे शरीर की नमी भी कम हो जाती है और नाक के म्यूकस मेंब्रेन का मॉइश्चर भी खत्म हो जाता है। ऐसे में, नाक में जलन होने लगती है।
  3. प्रदूषण- वातावरण में मौजूद प्रदूषण की वजह से हमारे नाक की संवेदनशीलता बढ़ जाती हैं। प्रदूषण, धूल, मिट्टी, कंपनियों के हानिकारक गैसेस की हवा से नाक में जलन जैसी तकलीफें बढ़ जाती हैं। ऐसी परिस्थिति में अगर हम सांस लेते हैं, तो वातावरण में मौजूद टॉक्सिंस हमारे अंदर चले जाते हैं और नाक में जलन शुरू हो जाती हैं।
  4. नेजल इंफेक्शन- नाक में होनेवाले कई संक्रमण की वजह से हमारे नाक में जलन होना शुरू हो जाता है। साइनस की बीमारी में नाक का म्यूकस नाक के खुले छिद्रों में फंस जाता है और वहां बैक्टीरिया पनपते हैं। ऐसे में, हमें इंफेक्शन हो जाता है और नाक में खुजली होती है। इसी के साथ, नाक में दर्द भी महसूस होता है।

नाक में जलन के घरेलू उपाय

नाक में हो रही जलन को रोकने के लिए या कम करने के लिए आप कुछ घरेलू इलाज आजमा सकते हैं।

  1. नारियल तेल- नारियल तेल नेचुरल मॉइश्चराइजर होता है। यह ना कि हमारी त्वचा और हमारे बालों के लिए उपयोग में आता है, बल्कि नाक में हो रही जलन के लिए भी उपयुक्त होता है। नारियल तेल की एक से दो बूंदे रोज रात को सोने से पहले नाक में डाल लें। इससे आपके नाक में हो रही जलन, सूजन, सूखी नाक और झनझनाहट को कम होने में मदद मिलती है।
  2. घी- घी ठंडी तासीर वाला होता है। घी मॉइश्चराइजर की तरह काम करता है। कभी-कभी नाक में ड्राइनेस की वजह से भी इरिटेशन होता है। ऐसे में आप घी का इस्तेमाल कर सकते हैं। रोजाना दिन में एक से दो बार नाक में अपनी उंगली से घी लगा सकते हैं। घी लगाने से आपके नाक में आई जलन, सूजन कम होने में मदद मिलती है। नाक की त्वचा अंदर से मॉइश्चराइज भी होती है, जिसकी वजह से ड्राइनेस नहीं होती है।
  3. बेल का शरबत- गर्मियों में बेल का शरबत पीना बहुत ही फायदेमंद साबित होता है। बेल का शरबत हमारे शरीर को ठंडक पहुंचाता है। कभी कभी गर्मियों के मौसम में भी नाक में जलन होती है। ऐसे में, नाक में हो रही जलन को रोकने के लिए आप बेल का जूस पी सकते हैं। इसी के साथ, आप बेल के पत्तों को पानी में उबालकर, उस मिश्रण में मिश्री डालकर पी सकते हैं। इससे आपके पूरे ही तबीयत को अच्छे से लाभ मिलते हैं। बेल का शरबत पीने से आपके नाक में हो रही जलन कम होने में मदद मिलती है।
  4. स्टीम- नाक में हो रही जलन और झनझनाहट को कम करने के लिए आप गर्म पानी से स्टीम भी ले सकते हैं। इसके लिए आपको अपने सिर पर तौलिया रखना है और गर्म पानी की भाप लेनी है।
  5. डॉक्टर की सलाह- नाक में जलन ज्यादा होने पर आप तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। डॉक्टर की सलाह अनुसार दिशा निर्देशों का पालन करें। जिससे आपको एलर्जी है; जैसे प्रदूषण, धूल, मिट्टी, परागकण ऐसी चीजों से आप दूर रहें और इनसे बचाव करने के उपाय जरूर अपनाएं। इसी के साथ, डॉक्टर आपको कुछ एंटी एलर्जी दवाई लिखकर देंगे; उनका सेवन वक्त पर अवश्य करें। दवाइयों के साथ ही डॉक्टर आपको नेजल स्प्रे भी देंगे, जिससे जल्द ही आराम मिलता है। जब तक पूरी तरह से ठीक ना हो जाए, तब तक डॉक्टर से सलाह मशवरा लेते रहे।
नाक में जलन होने के घरेलू उपाय
नाक में जलन होने के घरेलू उपाय

दोस्तों, अपने शरीर में हो रहे अनचाहे बदलाव पर हमेशा ध्यान देना चाहिए। वह बड़ी बीमारी में तब्दील हो जाए, इससे पहले ही उसका इलाज कर लेना चाहिए। नाक में जलन देखने को तो काफी साधारण से दिखती हैं, लेकिन उससे हमें बहुत तकलीफ होती हैं। ऐसे में, इस समस्या का वक्त रहते इलाज कर लेना चाहिए। उम्मीद है, आपको आज का यह ब्लॉग नाक में जलन होने के घरेलू उपाय अच्छा लगा हो। धन्यवाद।

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

नयी जानकारी :
error: Content is protected !!