मुंह के छाले की टेबलेट का नाम जानिए अंग्रेजी दवा का नाम

Must read
कैसे करे
कैसे करे
दोस्तों हम सभी जानकारी केवल आपके लिए ही दे रहे है , आप हमें सहायता करेंगे और आपका साथ हमेशा देंगे इसकी उम्मीद करते है |

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारे वेबसाइट पर और आज का हमारा विषय है मुंह के छाले की टेबलेट का नाम? दोस्तों मुंह में छाले आना यह एक आम बात होती है, जो हर इंसान को उसके जीवन में कभी ना कभी मुंह के छाले आते ही है। शरीर की बढ़ती गर्मी के कारण मुंह में छाले आते हैं और इसके अन्य कई प्रकार के कारण होते हैं जिनके बारे में हम आपको जानकारी देने ही वाले हैं।

दोस्तों आज हम इस विषय में मुंह के छालों के बारे में सभी प्रकार की जानकारी लेने वाले हैं; जैसे कि मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा कौन सी है? मुंह में छाले होने के क्या कारण है? मुंह के छाले की होम्योपैथिक दवा? जीत के छाले का घरेलू उपाय? इत्यादि सवालों के जवाब हम आपको आज देने वाले हैं जिसे पढ़कर और आजमा कर आप अपने मुंह के छालों से छुटकारा पा सकते हैं।

मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा ? Munh me Chale :

दोस्तों मुंह के छालों की अंग्रेजी दवा यानी कि यह एंटीबायोटिक टेबलेट होती है, जिसमें कीटाणु से लड़ने की क्षमता होती है। ऐसी टेबलेट बनाने में कई प्रकार की केमिकल इस्तेमाल किए जाते हैं,और लगातार ऐसी टेबलेट का सेवन करने से यह आपके शरीर पर साइड इफेक्ट कर सकती है, इसलिए कई लोग मुंह के छालों के लिए अंग्रेजी दवा लेना मना कर देते हैं लेकिन अगर परेशानी अधिक हो जाए तो इसी दवा से जल्द से जल्द इलाज करवाना महत्वपूर्ण होता है।

तो चलिए देखते हैं, कौन सी अंग्रेजी टैबलेट मुंह के छालों के लिए आपको बाजार में आसानी से मिल सकते हैं.

  • Orasore mouth ulcer tablet
  • Bicozym C Forte
  • Becosules cap 20’s
  • Ninefol 1mg tab
  • Xymex mps tab
  • Vizylac capsules
  • Digipin chew tab

दोस्तों ऊपर दी हुई सभी अंग्रेजी मुंह के छालों की टेबलेट है, जिनमें कॉन्टेंट एक ही होता है। कांटेक्ट यानी कि उस टेबलेट को बनाने के लिए लगने वाली औषधियों का इस्तेमाल करीब-करीब सेम होता है। क्योंकि मुंह के छाले यह विटामिन की कमी के कारण होते हैं।

तो इन सभी टैबलेट्स में विटामिन बी विटामिन सी की मात्रा अधिक बढ़ा देते हैं, जिससे शरीर के भीतर रहने वाली विटामिन की कमी टेबलेट लेने के बाद दूर हो जाते हैं, और मुंह के छालों से राहत मिलने में मदद मिलती है। मुंह के छालों के लिए अंग्रेजी दवा के साथ-साथ आपको मुंह के छालों पर लगाने वाले जेल भी मिलते हैं, जिसकी वजह से आपको सालों से राहत मिलने में मदद मिलती है।

  1. Orasore mouth ulcer relief gel
  2. E saliva plus mouth spray
  3. Quick cool mouth ulcer gel
  4. Smyle mouth ulcer gel

ऊपर दिए हुए जेल आप आपके मुंह के छालों पर लगा कर जल्द से जल्द छालो को दूर भगा सकते हैं। इन जेल में एक ठंडा पदार्थ इस्तेमाल किया हुआ होता है, जिसे हम मिंट भी कहते है। जिससे छालों की जलन दूर होती है, और उन्हें ठीक होने में ज्यादा समय नहीं लगता है।

मुंह में छाले होने के क्या कारण क्या है ? Reason of Mouth Ulcer in Hindi :

दोस्तों मुंह में छाले होने के कई कारण होते हैं, जिनके बारे में हम आपको बताने वाले हैं। लेकिन यह एक गंभीर बीमारी नहीं है, मुंह के छाले दुनिया के हर एक इंसान को होते हैं और हमें इंसान इस परिस्थितियों से गुजरा हुआ होता है।

यह केवल एक इन्फेक्शन में किसी प्रकार की चोट के कारण या शरीर में किसी न्यूट्रिशंस की कमी के कारण होता है। तो आइए जान लेते हैं, कि मुंह में छाले किस वजह से होते ताकि अगली बार से आप उस चीज का ख्याल रख सकेंगे और मुंह के छाले होने से बच सकते हैं।

  • मुंह के छाले दर्शन विटामिन की कमी के कारण होते हैं।
  • किसी प्रकार की चोट की वजह से भी मुंह में छाले हो सकते हैं।
  • खाना खाते वक्त अगर दांतों में जीव आ जाती है या फिर ओठ कट जाता है, तो इसके कारण भी मुंह में छाले होते हैं।
  • रोज सुबह किए जाने वाले ब्रश की वजह से भी मुंह में छाले आ जाते हैं। क्योंकि उसमें सोडियम लॉरिल सल्फेट यूज़ किया होता है, वह त्वचा में जलन पैदा करता है।
  • विटामिन B12,जिंक, आयरन इनकी कमी अगर शरीर में हो तो आपको मुंह के छाले होने जैसी बीमारी हो सकती है।
  • मुंह के बैक्टीरिया के कारण भी आपको मुंह के भीतर छाले होना स्वाभाविक होता है।
  • शारीरिक हार्मोनल चेंज इसकी वजह से भी मुंह के अंदर छाले हो जाते हैं।
  • मानसिक तनाव और नींद की कमी के कारण भी मुंह के अंदर छाले हो जाते हैं।
  • किसी बैक्टीरिया फंगल इंफेक्शन के संपर्क में आने की वजह से भी आपको मुंह के अंदर छाले होते हैं।
  • आपको अब डायबिटीज हो तो मुंह के छाले हो सकते हैं।

मुंह के छाले की होम्योपैथिक दवा :

दोस्तों मुंह के छाले की होम्योपैथिक दवा के बारे में जानने के पहले हम यह जान लेते हैं। की होम्योपैथिक दवा यानी कि क्या होता है? होम्योपैथिक दवा यह एक प्राकृतिक रूप से बनाई हुई होती है। जिसमें कई प्रकार के वनस्पति पौधे और मिनरल्स इस्तेमाल किए जाते हैं। ऐसी दवाइयों के ज्यादातर साइड इफेक्ट किसी भी प्रकार से नहीं होते हैं इसलिए लोग होम्योपैथिक दवाई का चयन करते हैं। लेकिन इस दवाई का असर धीरे-धीरे होता है और किसी भी प्रकार की परेशानी को जड़ से उखाड़ कर दूर कर देता है। तो यह थी होम्योपैथिक दवा के बारे में जानकारी अब आते हैं मुंह के छालों के लिए होम्योपैथिक दवा कौन सी है?

  • Borax बोरेक्स 
  • Sulphuricum acidum सल्फ़रिक एसिडम 
  • Mercurius solibilis मेरक्यूरिस सोलिबिलिस
  • Kali muitacum काली मुइटकम

ऊपर दी हुई दवा सभी होम्योपैथिक दवा है। और यह दवाइयां प्राकृतिक रूप से बनाई हुई होती है पेड़ पौधे और मिनरल सेमिनल स्यानी की खनिज संपत्ती जो कि हमें जमीन के भीतर मिलती है। जैसे कि सोडियम पोटैशियम आयरन इत्यादि चीजों से थोड़ी-थोड़ी मात्रा में यह चीजों को मिलाकर रासायनिक फार्मूला का इस्तेमाल करके जो भी इंसान के शरीर के लिए फायदेमंद साबित होगा ऐसी दवाइयां वैज्ञानिक बनाते हैं, और यह पूरे तरीके से प्राकृतिक होती है।

जीभ के छाले का घरेलू उपचार :

दोस्तों सबसे पहले हम आपको यह चीज बता देते हैं कि चाहे बीमारी कोई भी हो मुंह के छाले से लेकर शरीर के किसी भी अंग के परेशानी तक। उसमें सबसे पहले आपको घरेलू उपाय आजमाकर देखना है, अगर परेशानी ज्यादा गंभीर ना हो तो। क्योंकि पहले के जमाने में तो डॉक्टर यह मेडिसिन मेडिकल यह नहीं होते थे पहले के जमाने में किसी भी प्रकार की बीमारी को घरेलू उपचार के जरिए ही ठीक किया जाता था। तो इसीलिए हम आपको यह सुझाव दे रहे हैं यह आपके ऊपर निर्भर करता है कि घरेलू उपचार करना है या नहीं हम किसी भी तरीके से आप पर सक्ति नहीं करते हैं, कि आप घरेलू उपचार ही अपनाये। तो आइए चलिए किस प्रकार के घरेलू उपाय करने से आपको जीभ के छाले और मुंह के छालों से राहत मिलने में मदद होगी।

नमक और हल्दी का इस्तेमाल :

गुनगुने पानी में नमक और थोड़ी सी हल्दी मिलाकर अगर आप उसकी गरारे करते हैं। तो इससे आपको मुंह के छाले दूर भगाने में मदद होती है क्योंकि हल्दी में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो आपके मुंह पर छाले के बैक्टीरिया को मारने में सक्षम होता है। और नमक में सोडियम की मात्रा होती है इसीलिए सोडियम इंसान के शरीर के लिए अच्छा होता है, और वह मुंह के छाले दूर करने में मदद करता है।

लौंग चबाए :

दोस्तों लोंग खाने से आपको मुंह के छाले से राहत मिलती है क्योंकि लौंग के अंदर विटामिन सी, विटामिन के, और विटामिन ई होता है। यह कैल्शियम होने के साथ-साथ मैग्नीज की भी थोड़ी बहुत मात्रा होती है जो मुंह के छालों को दूर भगाने के लिए काफी फायदेमंद होती है।

दही खाये :

दोस्तों दही यह प्राकृतिक रूप से बनता है और दही बनाने के लिए बैक्टीरिया इस्तेमाल किया जाता है जैसे कि दूध में नींबू डाल दिया जाए तो उसका दही बन जाता है। लेकिन यह दो ही मुंह के छालों के लिए काफी फायदेमंद होता है। क्योंकि दही के अंदर सोडियम पोटैशियम मैग्निशियम और विटामिन डी होता है, जो कि मुंह के छालों को दूर करने में मदद करता है।

चाय की पत्ती का इस्तेमाल :

दोस्तों रोजाना जो चाय की पत्ती जो हम चाय बनाने के लिए इस्तेमाल करते हैं। वही चाय की पत्ती अगर हम एक चुटकी में पकड़ कर मुंह के छालों पर डायरेक्ट लगाते हैं, तो वह मुंह के छालों को तुरंत दूर करने में मदद करता है। या फिर आप ब्लैक टी का इस्तेमाल कर सकते हैं ब्लैक टी यानी की केवल चाय की पत्ती डालकर बनाई हुई चाय होती है।

शहद का इस्तेमाल :

शहद यानी की हनी हमारे त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होती है। क्योंकि शहद में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो त्वचा के बैक्टीरिया को मारने के लिए सक्षम होता है। अगर आपको मुंह के छाले हुए हैं और आप उन सालों पर शहद लगाते हैं तो आपके साले जल्द ही दूर हो जाते हैं।

तो दोस्तों यह तो हमारे घरेलू उपाय और कई सारे और भी घरेलू उपाय आप आजमा सकते हैं जैसे नारियल का तेल, बेकिंग सोडा, संतरे का जूस और मैं जाने कई प्रकार के होते हैं।

जिनके बारे में हम आपके लिए और भी जानकारी लेकर आने वाले हैं, तो जुड़े रहिए हमारे इस पेज से और रोज नई-नई प्रकार की जानकारियां के बारे में जानिए।

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

नयी जानकारी :
error: Content is protected !!