मन को शांत करने का आसान तरीका (असरदार मंत्र)

, , 4 Comments

Last Updated on

आज इस लेख के माध्यम से हम आपको बताएँगे कि कैसे आप अपने मन को शांत रखें? और अपने मन पर काबू पाए। जिससे कि आपका मन हमेशा शांत रहे। और आप किसी भी समस्या का सामना आसानी से कर। हमेशा खुशी और स्वास्थ्य-पूर्ण जीवन जीने के लिए। मन की शांति बहुत ही जरूरी होती है। अगर आपका मन शांत है तो आप किसी भी प्रकार की समस्या का सामना कर सकते हैं। हंसते खेलते आप अपना जीवन व्यतीत कर सकते हैं।

अगर आपका मन ही शांत नहीं है, तो किसी भी काम में आपका मन नहीं लगता है।  हमेशा आपका मन विचलित रहता है। मन की शांति के बिना आपकी शारीरिक और मानसिक स्थिति खराब रहती है।  मन का शांति रहना बहुत ही जरूरी है। मन को शांत रखना कोई बड़ा कार्य नहीं है। यह आपके नियंत्रण में है। आपके मन को आप आसानी से काबू कर सकते हैं। जिंदगी है जिंदगी में तो उतार-चढ़ाव आते ही रहते हैं। यह आप पर निर्भर करता है कि आप उसको किस तरह से हैंडल करते है।

हमारे साथ कुछ गलत हो गया है, या लड़ाई-झगड़ा हो गया है, या फिर किसी ने कुछ कह दिया है तो हम उस परिस्थिति से बाहर ही नहीं निकल पाते हैं। बार-बार वही घटना के बारे में सोचते रहते हैं। और अपने मन की शांति भंग कर लेते हैं। कभी-कभी लगता है, कि यह सब छोड़ कर कहीं चले जाएं।

लेकिन इसका समाधान इससे भागना नहीं है। बल्कि इसका सामना करना है। और अपने आप को उस परिस्थिति यां घटना से बाहर निकालना है। तभी आप अपने मन को शांत रह पाओगे और खुशहाल जीवन जी पाओगे।

जिंदगी में हर किसी ना किसी आदमी के जीवन में संघर्ष होता है जिसमे वो हारता है या फिर जीतता है अगर वह हारता है तो उसे बुरा लगता है अगर वो जित भी गया फिर भी उसे डर होता है की आगे चलकर किसी ने उसकी जगह नहीं लेनी चाहिए |

सूचि देखे :

क्यों हम चाहते हुए भी मन को शांत नहीं कर पाते हैं ? PeaceFul Mind in Hindi :

कभी-कभी जिंदगी में ऐसा दौर आता है कि हमें लगता है हमसे ज्यादा बदनसीब इस दुनिया में कोई नहीं है। परंतु ऐसी सोच रखने वाले लोग बहुत ही गलत सोचते हैं। यही सोचना ही गलत है। क्योंकि जैसी जिंदगी आप जी रहे हो वैसे जिंदगी के लिए कोई और तरसता है। और कई सारे लोग भगवान से जैसी आप जिंदगी जी रहे हैं इस प्रकार के जिंदगी की प्रार्थना करता है। अगर जिंदगी में सुख दुख ना आए तो जिंदगी बेजन से लगने लगेगी। जिस प्रकार रात के बाद सवेरा होता है। उसी प्रकार दुख के बाद सुख भी आता है। यह प्रकृति का नियम है।

कई बार हमें मानसिक और शारीरिक रूप से इतनी पीड़ा होती है, कि हम मन की शांति खो देते हैं। हम वही घटना के बारे में बार-बार सोचते हैं। जिससे हमारी मन की शांति मन की शांति बरकरार रहने के लिए हम कुछ मोटिवेशनल वीडियोस देखते हैं। या फिर उससे निकलने का प्रयास करते हैं। लेकिन यह थोड़ी देर तक ही हम कर पाते हैं।

इसके लिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होगा कि आपको ऐसी स्थिति में कैसे बर्ताव करना चाहिए। और आप अपने आप को कैसे नियंत्रित कर सकते हैं। इस लेख के माध्यम से हम आपको यह बताएँगे कि ऐसे क्या रोजाना दिनचर्या रखे जिससे कि आपकी मन की शांति बनी रहे और आप हमेशा आनंदी रहे।

मन शांत न रहने के दुष्परिणाम क्या होते है ? Side Effects of Disturbed Mind in Hindi :

आपका मन किसी घटना या परिस्थिति से व्याकुल है, तो आप कभी भी अपने आप को आनंदी नहीं रख पाते हैं। इसकी वजह से आपकी मानसिक तथा शारीरिक स्वास्थ्य खराब होता है। और हमेशा चिड़चिड़ापन होता है।

परिवार वालों पर गुस्सा करना, छोटी-छोटी बात पर रूठ जाना, और अकेले रहना पसंद करना। अगर आप ऐसी स्थिति में अकेला रहना चाहती हो तो कोई बात नहीं लेकिन वह थोड़ी देर के लिए ही अच्छा है। उसके बाद में आपको अपने परिवारजनों के साथ समय व्यतीत करना चाहिए। इससे आपके मन को शांति मिलेगी।

आपका मन शांत नहीं है तो आप डिप्रेशन में भी जा सकते हो। और अगर ज्यादा ही स्थिति खराब हो तो आप को ब्रेन हेमरेज भी हो सकता है। और ज्यादा तनाव लेने से आपका सर दर्द होने लगता है। और हमेशा सर भारी होने लगता है। और आपके स्वास्थ्य से संबंधित परेशानियां शुरू होने लग जाती है। किसी भी खुशी के अवसर भी आपको कुछ भी अच्छा नहीं लगता है। यह मन शांत ना रहने के दुष्परिणाम है तो चलिए जानते हैं कि मन कैसे शांत रखें।

मन को शांत कैसे करें ? How to Keep Mind Peaceful in Hindi :

मन की शांति
मन की शांति

मन को शांत करने के कई सारे तरीके होते हैं। उन तरीकों में भी प्रकार होते हैं जैसे कि जैसे कुछ समय के लिए समस्या से बाहर निकलना। या फिर हमेशा के लिए उस समस्या से बाहर निकल जाना। इस दोनों में अंतर है। भगवान ने हमारे शरीर की रचना कुछ इस प्रकार की है, कि प्रत्येक हिस्से का अलग-अलग कार्य है। जै

से कि जीभ का कार्य है स्वाद लेना, कान का कार्य है सुनना,.ह्रदय का कार्य है धड़कना, उसी प्रकार दिमाग का कार्य है हमेशा सोचते रहना। जिस दिन इंसान का दिमाग काम करना बंद कर देगा वह दिन इंसान का आखरी दिन होगा। यह वास्तविक सत्य है। मन को सही दिशा में लेकर जाना ही मन को वास्तव में शांत रखने का तरीका है। जैसे कि हम क्या सोचते हैं किस प्रकार से सोचते हैं यह बहुत जरूरी है।

मन को स्थिर रखें : Keep Mind Calm in Hindi :

आपका दिमाग उस लाइट की तरह है जिसका कोई भी बटन नहीं है। जिससे कि वह चालू बंद किया जा सके। वह दिमाग का कार्य है, कि वह हमेशा सोचता रहता है। कुछ ना कुछ बातें जो हमारे जीवन से संबंधित है। उसमें भी तरह की बातें हो सकती है। एक है वास्तविकता और एक है सपना। छोटा सा बीज कब बड़ा बन के फल देने लगता है। उसी प्रकार हमारा मन भी है।

मन में कई सारे अलग-अलग विचार आते हैं। जो कि सकारात्मक और नकारात्मक दोनों रहते हैं। नकारात्मक विचारों को सोच सोच कर ही हमारा मन अस्थिर हो जाता है। और हम अपनी सोचने की क्षमता खो देते हैं। और वास्तविकता को भूल जाते हैं। क्या हम यह सोचते हैं कि जो हम सोच रहे हैं। वह वास्तविक में वैसा ही होगा? या हो रहा है? जैसे कोई कोई सोचता है कि किसी घटना की वजह से उसकी पूरी जिंदगी ही खत्म हो गई। क्या आपने सोचा है कि सच में आपकी पूरी जिंदगी खत्म हो गई है?

नहीं तो फिर वहीं से आपको नई शुरुआत करनी है। आपके बस में कुछ भी नहीं होता है। जो होना है होता है वह हो चुका होता है। अगर आप उसी के बारे में बार-बार सोचोगे तो आप कभी भी शांत नहीं रह पाओगे। और हमेशा दुखी ही रहोगे। इसके लिए आपको आपकी सोच बदलनी होगी। और अपने मन को स्थिर करना होगा।

हमेशा अपने आप से प्यार करना चाहिए : Self Love is Important

जिंदगी में तरक्की करने के लिए कभी भी एक बात को ध्यान रखना चाहिए अगर आप अपने आप से प्यार करते है तो ही आपका काम आपसे प्यार करने लगता है और आपकी तरक्की होती है| सफल जीवन का सूत्र है हमेशा आपने आप पर प्रेम करना सीखो, यदि आप अपने आप पर प्रेम नहीं करते तो कोई और क्यूँ आप पर प्रेम करेगा|

मन की खुशी के लिए आपकी पसंदीदा चीजें करें : Do What You Love :

अगर आपका मन किसी घटना, या किसी झगड़े, या रिश्ते से परेशान हैं। या मनमुटाव के कारण आप की स्थिति स्थिर नही  है। तो आपको अपने आप से यह सवाल करना चाहिए कि इस समस्या का जड़ क्या है? कि कैसे आप इस समस्या से दूर रह सकते हैं। हम किसी को कंट्रोल नहीं कर सकते। या किसी के बर्ताव को अपने बदलाव हीं कर सकते। हम अपने आप में कुछ बदलाव लाकर परिस्थितियों को बदल सकते हैं। और मन की शांति के लिए आपको जो पसंद है। वह चीजें करें जैसे कि अगर आपको घूमना पसंद है। तो कहीं घूमने चले जाइए, या फिर बगीचे में जाइए, लोगों से मिलीये, परिवारजनों के साथ में समय व्यतीत करिए, आपके मनपसंदीदा गाने सुनिए, ना कि वह गाने सुने जो और ज्यादा आपके मन को अस्थिर करें,अपने मित्रों के साथ घूमने जाइए, उनसे बातें करिए, जो भी आपके मन को अच्छा लगे वह चीज करें। पहले तो अपने आप से प्यार करना सीख ले वह बहुत जरूरी है।

हमेशा B Positive रहना चाहिए: Stay Be Positive :

कोई भी काम करने से पहले उसपर हमारी श्रद्धा होती है तो वह काम सफ़ल होता ही है| जीवन में तरक्की करने के लिए और जीवन में सफल होने के लिए किसी भी काम को करते समय हमेशा पॉजिटिव रहना सीखना चाहिए| नेगेटिव थॉट्स की वजह से नेगेटिव एनर्जी आपके भीतर प्रवेश करती है और होने वाले काम जो बिघाड देती है |

आपके साथ कुछ गलत हुआ है। तो उसी के बारे में हमेशा नकारात्मक सोच नहीं रखनी चाहिए। हमेशा सकारात्मक सोचिए और अपने विचारों की दिशाएं हमेशा सकारात्मक रखिए। क्योंकि अगर आपका दिमाग सकारात्मक है तो सारी चीजें आपके मन के अनुसार होती है। कभी-कभी कुछ चीजें गलत होती है। तो उससे अपने मन को विचलित ना होने दें। यह कहा जाता है कि जो भी बुरा होता है वह अच्छे के लिए होता है। इसके लिए हमेशा अच्छी सोच रखीये।

दिन में एक घंटा अपने आप को जरुर दे : Keep Time for Your Self :

रोजाना दिन भर में १ घंटा वक्त अपने आप को जरुर देना चाहिए , अपने पसंदीदा गाने सुनने से आपके दिल में खुद के प्रति प्यार बढ़ता है और कुछ अलग क्रिएटिव सोचने में आपकी मदत होती है |

मेडिटेशन करें या प्राणायाम करें : Meditation is Important :

अगर आपका मन हमेशा तनावग्रस्त रहता है। या कुछ ना कुछ बातों से अशांत रहता है। तो आपको सुबह थोड़ा जल्दी उठ कर प्राणायाम करना चाहिए। और उससे पहले 5 से 10 मिनट तक आंखें बंद करके ओम नमः शिवाय। या ओम का जप करना चाहिए। इससे आपके मन को शांति मिलेगी और आपका मन स्थिर हो जाएगा। यहा आपको रोजाना करना है। इससे आपके स्वास्थ्य में भी असर होगा और आप हमेशा खुश रहोगे।

हमेशा अपने आपको व्यस्त रखिये : Keep Yourself Busy

अगर आप यह सोचते हैं कि अकेले रहने से सब समस्या का समाधान हो जाएगा या फिर आपके मन को शांति मिलेगी ऐसा कुछ भी नहीं होता है। आपको उल्टा ऐसे समय में अपने परिवारजनों अपने दोस्तों के साथ रहना चाहिए।

जिससे कि आपका मन खाली ना हो। या दिमाग वहीं घटना के बारे में ना सोचो क्योंकि उसी घटना के बारे में बार बार सोचने से आपकी मानसिक स्थिति खराब हो सकती है। और तनाव बढ़ता है। और चिड़चिड़ापन होता है। अपने आप से गुस्सा आने लगता है। इसके लिए आपको हमेशा अपने कामों में व्यस्त रहना चाहिए। जितना हो सके घुल मिल के रहने की कोशिश करिए। इससे आपको खुश भी मिलेगी और आप बाकी सब चीजों से दूर रहोगे।

नींद पूरी लेना जरुरी है : Have a Good Sleep :

पुरे दिन भर में होने वाली थकान को दूर करने के लिए आपको हर २४ घंटे में ८ घंटे नींद पूरी होना जरुरी है |

हमेशा दूसरों को माफ करना और माफी मांगना सीखें : Be Humble :

कभी-कभी कुछ घटनाएं ऐसी हो जाती है कि हम किसी को माफ नहीं कर पाते हैं। और वही सोच सोच कर हम अपने आप को कष्ट पहुंचाते हैं। क्योंकि यह बहुत गलत बात है कभी भी माफी मांगने वाले से माफ कर देने वाला बहुत बड़ा होता है। इसीलिए आपको दूसरे को हमेशा माफ कर देना सीखना चाहिए। और दूसरे से अपनी गलती की माफी मांग लेनी चाहिए। यह भी आपके मन को शांत रखने के लिए बहुत उपयुक्त है। यह चीज आपके मन को हमेशा शांत रखेगी। यहा आपको जरूर करना चाहिए इससे आ के मन में  ईर्ष्या की भावना भी नहीं आएगी ना ही बदले की भावना आएगी।

बीती घटनाओं को भूलना सीखे : Forget Past

बीती बातों को भूलकर आज में जीने की कोशिश करें, क्योंकि बीती बातों को आप बदल नहीं सकते है। जो होना था वह हो चुका है। उसे के बारे में सोच कर अपना दिमाग खराब नहीं करना चाहिए। इसके लिए आपको आज मैं जीना बहुत जरूरी है। क्योंकि कल का सोचकर आप आज भी खराब कर रहे हो। और अपने मन को और ज्यादा कष्ट पहुंचा रहे हो। इससे बीती बातें को भूल कर वास्तविकता को स्वीकार कर। आज में जीने की कोशिश करें और सारी बातें भुला दे।

किसी से भी किसी प्रकार की इच्छा या अपेक्षा न रखें : Self Independence is Important :

इच्छा अपेक्षा रखना यानी कि अपने आप को परेशान करना है। अगर आप किसी से इच्छा या अपेक्षा रखते हैं और आपके मन के अनुसार वह बात नहीं होती है। तो आप बहुत ही परेशान हो जाते हो। और आपकी मन अस्थिर हो जाता है। यही कारण है कि आपका मन शांत नहीं रह पाता है। जितनी कम इच्छा और अपेक्षा उतनी ही ज्यादा सुखी और समाधानी आप रह पाओगे। क्यों की इच्छा करना बुरी बात नहीं है, लेकिन अगर वह अपने मन के अनुसार ना हो तो वह अपने मन की अशांति का कारण हो सकती है। इसके लिए किसी से भी इच्छा अपेक्षा ना रखें।

मन शांति का मंत्र का इस्तमाल करना चाहिए : Peaceful mind Mantra in hindi :

मन को शान्ति दिलाने के लिए आपको कुछ वक्त निकालकर ध्यान करने बैठना चाहिए और निचे दिए हुए शांति मंत्र का जप करना चाहिए-

राम राम कहि राम कहि। राम राम कहि राम॥

या फिर निचे दिए हुए शांति मंत्र का जप करना चाहिए –

मन शांति मंत्र
मन शांति मंत्र

मन को शांत करने के टिप्स : Keep Mind calm tips in Hindi :

  • हमेशा खुश रहे |
  • तनाव को भूलकर जीना चाहिए |
  • जो है उसमे खुश रहना चाहिए |
  • अपनी ताकत को पहचाने |
  • दुसरो से जलन की भावना नहीं रखना चाहिए |
  • हसते खेलते रहना चाहिए |
  • दुसरों के काम में दखल अंदाज नहीं करना चाहिए |
  • हमेशा दुसरो की मदत करते रहना चाहिए |
  • शराब और सिगारेट स्मोकिंग नहीं करना चाहिए |
 

4 Responses

Leave a Reply