हरी मिर्च के फायदे हिंदी में जानकारी

, , Leave a comment

Last Updated on

हरी मिर्च के फायदे

हरी मिर्च के फायदे
हरी मिर्च के फायदे

हरी मिर्च को इंग्लिश में green pepper (chilli) कहते है और मराठी में हिरवी मिर्ची कहते है | हरी मिर्च में विटामिन ‘ सी ‘ का प्रमुख स्त्रोत है | हरी मिर्च का सिमित मात्रा में सेवन अनेक रोगों से मुक्ति दिलाता है | हरी मिर्च का चरपरापन ‘ कैप्सेकिन ‘ नामक तत्व के कारण होता है | हरी मिर्च की तासीर गरम होती है | यह वायु रोगों को दूर करती है तथा पित्त को बढाती है |

हरी मिर्च के फायदे व घरेलू उपाय :

वायु रोग :

वायु रोग में आम वाद , कमर दर्द , पार्श्वशुल में हरी मिर्च का लेप लगाने से आराम मिलता है |

जोड़ो का दर्द :

मिर्च को तेल में जलाकर उसके जोड़ो पर मालिश करने से लाभ होता है |

हैजा :

१ ग्राम हिंग , १ ग्राम दो हरी मिर्च के साथ पीसकर गोली बनाकर दिन में 3-4 बार गरम ठंडा किए गए पानी के साथ लेने से लाभ होता है |

चर्मरोग :

हरी मिर्च को पीसकर सरसों के तेल में पका ले , ठंडा करके यह तेल चर्म रोग पर लगाने से लाभ होता है |

मुत्रविरोध :

लहसुन की चटनी और हरी मिर्च खाने से मूत्र खुलकर आती है |

अरुचि :

हरी मिर्च का रोज सेवन करने से भोजन के प्रति अरुचि दूर होती है |

मोटापा :

हरी या लाल मिर्च का सेवन करने से मोटे व्यक्ति को वजन नियंत्रण रहता है |

मकड़ी चलने पर :

मकड़ी चल जाने पर त्वचा पर मवाद वाले दाने उठ जाते है , उन पर हरी मिर्च पीसकर लगाने से लाभ होता है |

कुत्ते के काटने पर :

काटे हुए स्थान पर सरसों का तेल लगाकर लाल मिर्च पीसकर बांधने से घाव जल्दी ठीक हो जाता है |

बिच्छू दंश :

बिच्छू के काटने पर तुरंत हरी मिर्च का लेप लगाने से लाभ होता है |

कान का दर्द :

७ लाल मिर्च को छंटाक भर घी में जलने तक पकाए | घी ठंडा होने पर छानकर शीशी में भर ले | इसकी २-३ बूंद कुनकुना करके कान में

डालने से कान का दर्द ठीक हो जाता है |

 

Leave a Reply