ब्लड प्रेशर की जानकारी

ब्लड प्रेशर की जानकारी (लो बीपी और हाय बीपी)

Last Updated on

नमस्कार दोस्तों वेलकम बैक आपका हमारे कैसे करें पेज पर। हम आज आपको ब्लड प्रेशर (बिपी) के बारे में जानकारी देने वाले है। ब्लड प्रेशर यह आज के भागदौड़ भरी दुनिया में जीवन जीने वाले लोगों का पारिवारिक हिस्सा बन चुका है। जो कि बहुत ही खतरनाक साबित हो रहा है। हर परिवार में से ब्लड प्रेशर के कारण 2 से 3 लोगों की मृत्यु आज हो रही है, तो आइए थोड़ा गहराई में जानते हैं। चाहे ब्लड प्रेशर ब्लड प्रेशर क्यों होता है, अगर ब्लड प्रेशर हुआ है, तो किन कारणों की वजह से हम ब्लड प्रेशर से छुटकारा पा सकते हैं।

ब्लड प्रेशर क्या होता है ?

ब्लड प्रेशर क्या होता है
ब्लड प्रेशर क्या होता है

दोस्तों ब्लड प्रेशर याने हमारे शरीर में खून का जो बहाव होता है । वह तेज गति से होना जैसे कि गुस्से के कारण खून का बहाव तेज होना, या शरीर में किसी प्रकार की बीमारी हो तो उस बीमारी की वजह से खून का बहाव और तेजी बढ़ जाती है। जिसके कारण इंसानों को पसीना आना शुरू हो जाता है, और चक्कर आने लगते है।

हाय बीपी होना याने क्या होता है ?

हाय बीपी
हाय बीपी

हाई ब्लड प्रेशर होना या नहीं खून का बहाव तेजी से होना हमारे शरीर में कई अलग-अलग तरह के कारणों की वजह से होता है। जैसे कि सदा कोई आदमी चिंतित रहता है तो उसे टेंशन की वजह से उसे हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी लग जाती है। या कोई इंसान हर बात पर गुस्सा करता हो तो उसे भी यह बीमारी होने का चांस होता है। ऐसा होने के बाद शरीर में खून का बहाव बहुत तेजी से होता है, जिससे इंसान चक्कर आकर गिर जाता है, और उसे हार्ट अटैक आने की भी संभावना हो जाती है।

लो बीपी होना याने क्या ?

दोस्तों लो ब्लड ब्लड प्रेशर में हमारे खून का भाव बहुत ही संत गति से हो जाता है, जिसके कारण इंसान को चक्कर आते और वह बेहोश हो जाता है। लो ब्लड प्रेशर ज्यादातर खून में शुगर का प्रमाण कम हो जाने से होता है।

बीपी कितना होना चाहिए ?

बीपी कितना होना चाहिए
बीपी कितना होना चाहिए

दोस्तों ब्लड प्रेशर को एमएम एच जी में गिना जाता है। साधारण तौर पर तंदुरुस्त इंसान का ब्लड प्रेशर को 80 एमएम एचजी से 120mm एच जी में होता है, और दूसरी संभावना यह है जो की साधारण तौर पर नॉर्मल मानी जाती है।

जैसे कि अगर किसी इंसान का बीपी और 80 एमएम एचजी से 100 एमएम एचजी होता है, वह भी तंदुरुस्त कहलाता है।

लेकिन असल में ब्लड प्रेशर और 80 एमएम एचजी से 120 एमएम एचजी में ही होना चाहिए।

बीपी के लक्षण क्या होते हैं ?

बीपी के लक्षण
बीपी के लक्षण
  • अगर आपको ब्लड प्रेशर नहीं है, तो आप बाहर अक्सर दर्द के शिकार हो जाते हैं।
  • ब्लड प्रेशर के कारण हमेशा थकान महसूस होती है।
  • बहुत घबराहट होना यह भी एक कारण है ब्लड प्रेशर का।
  • आपकी नजर जो धुंधली हो जाती है।
  • छाती में दर्द होना।
  • जब ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है तो सांस लेने में दिक्कत होती है।
  • दिल की धड़कनों का अनियमित तरीके से धड़कना शुरू हो जाता है।
  • ज्यादा हाई बीपी के कारण नाक से भी खून निकल सकता है।

रक्त चाप क्यो बढ़ता है ?

रक्त चाप क्यो बढ़ता है
रक्त चाप क्यो बढ़ता है

बीपी बढ़ने के दो मुख्य कारण है, जैसे कि बढ़ती उम्र और मोटापा इसकी वजह से आपका ब्लड प्रेशर जल्दी बढ़ जाता है। या अगर आपको ब्लड प्रेशर है, और आपके पूर्वजों को भी ब्लड प्रेशर की बीमारी थी तो यह आपकी पूर्वजों से चलती हुई बीमारी है बहुत अधिक मात्रा में तापमान बढ़ जाना इसकी वजह से भी हाई बीपी होती है। धूम्रपान करने से भी बीपी बढ़ जाती है। सदा तनाव में रहने के कारण हमारे खून का प्रेशर तेज या कम हो जाता है। मधुमेह की वजह से भी बीपी बढ़ जाती है। इसके यहां ने भी कई सारे कारण हैं, जैसे की प्रेगनेंसी सोए राशि की बीमारी ज्यादा नमक का सेवन और हमेशा शराब का सेवन इन कारणों की वजह से आपका ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है।

रक्त चाप कम क्यों होता है ?

रक्त चाप कम क्यों
रक्त चाप कम क्यों

ब्लड प्रेशर कम होने का पहला कारण है, कि आपको आगरा डायबिटीज का बीमारी है, तो आपका ब्लड प्रेशर कम होने लगता है। दूसरा यह कारण है, कि अगर आप महिला है, तो प्रेगनेंसी के वक्त भी आम का ब्लड प्रेशर कम हो जाएगा और बाकी हमने भी कारण है। जैसे कि दिल से जुड़ी बीमारी खाए जाने वाले खाने में पोषक तत्वों की कमी इन कारणों की वजह से आपका ब्लड प्रेशर कम हो जाता है।

ब्लड प्रेशर कम करने के लिए क्या खाएं ?

ब्लड प्रेशर कम करने के लिए
ब्लड प्रेशर कम करने के लिए

अगर आपको अपना ब्लड प्रेशर कम करना है, और हमेशा नॉर्मल मेंटेन करना है, तो आपने रोजाना एक सेब का सेवन करना है। और रोजाना खाए जाने वाले खानों में पोषक तत्वों की मात्रा अधिक बढ़ा दे, और बाकी के अन्य कुछ पदार्थ में आपको नीचे बता देता हूं कि रक्त चाप कम करने के लिए क्या खाएं?

केले खाए, बिना फैट वाले दूध को ही हमेशा पिए, लहसुन का सेवन ज्यादा बढ़ा दे। और रोजाना फलों का सेवन करें जिससे आपका ब्लड प्रेशर कम हो जाता है।

ब्लड प्रेशर मेंटेन करने के लिए योग :

ब्लड प्रेशर मेंटेन करने के लिए योग
ब्लड प्रेशर मेंटेन करने के लिए योग

दोस्तों ब्लड प्रेशर मेंटेन करने के लिए काफी सारे योगा है, लेकिन हम आपको यहां चार-पांच इसी प्रकार बताएंगे जो कि आपके रक्त चाप मेंटेन करने के लिए काफी असरदार साबित होंगे यहां चार-पांच इसी प्रकार बताएंगे जो कि आपके रक्त चाप मेंटेन करने के लिए काफी असरदार साबित होंगे।

  1. भस्त्रिका प्राणायाम
  2. अग्निसार प्राणायाम
  3. भ्रामरी प्राणायाम
  4. आर्ट ऑफ लिविंग की सुदर्शन क्रिया
  5. सूर्य नमस्कार

ब्लड प्रेशर की गोली कब और कैसे लेनी चाहिए ?

ब्लड प्रेशर की गोली
ब्लड प्रेशर की गोली

दोस्तों ब्लड प्रेशर की गोली आपने आपके डॉक्टर के  दिए गए जानकारी के अनुसार नियमित रूप से लेनी चाहिए और तो और अगर आपको ऐसा लग रहा हो आपका बेबी पड़ रहा है, तो उस वक्त भी आप तुरंत ब्लड प्रेशर मेंटेन करने की गोली ले सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *