Home » चेहरे की देखभाल » आँखों की देखभाल » आँख का फड़कना शुभ होता है या अशुभ ? जानिए इसका कारण

आँख का फड़कना शुभ होता है या अशुभ ? जानिए इसका कारण

आँख का फड़कना

नमस्ते दोस्तों, आज इस लेख के माध्यम से हम आपको कुछ महत्वपूर्ण बातें बताना चाहते हैं। जैसे कि इंसान की आँख अगर फड़कती है तो यह शुभ शगुन है। या अपशकुन इसकी जानकारी देंगे। वैसे तो हमारे शरीर के हर एक अंग में कुछ ना कुछ हलचल होती रहती है। जैसे की आँख फड़कना, हाथ पर खुजली होना, एवं होठ़ो का फड़कना वगैरा-वगैरा इसके साइंटिफिक कारण भी है।

शरीर का हर एक अंग फड़कना है, और उसके कई न कई मायने या मान्यताए होती है। यह पूरी तरह से आप पर निर्भर है, कि आप इसे किस प्रकार लेते हैं। और जैसे हमारे बड़े बुजुर्ग इसके बारे में कुछ कह कर गए हैं, कि जैसे राइट आँख फड़कना लेफ्ट आँख फड़कना कई बार ऐसा होता है उसके कई सारी वजह होती है जैसे शुभ अशुभ इस तरह की मान्यताओं की वजह से हम हमारे जरूरी काम रोक देते हैं। और घर पर ही बैठ जाते हैं।

इसकी वजह से कुछ ना कुछ ऑफ़िस बुरा होगा, मैं इंटरव्यू में पास नहीं हुगा, या मेरा काम नहीं होगा, या मुझे आज जो पैसे मिलने वाले थे नही मिलेंगे, जो भी मेरा जरूरी काम था वह नहीं होगा ऐसे सोच के हम घर से बाहर ही नहीं निकलते हैं। क्योंकि हम यह सोचते हैं कि इससे कुछ ना कुछ अपशकुन होगा। लेकिन दोस्तों ऐसा कुछ नहीं होता है। यह आपके दिमाग का खेल अगर आप समझते हो कि यह शुभ है यह शुभ है।

अगर आप समझते हो कि यह अशुभ तो यह अशुभ है। हमे दिमाग से सिर्फ सकारात्मक सोचना बहुत जरूरी है। फिर भी आपकी जानकारी के लिए हम आपको बताएँगे की आँख फड़कने के कारण क्या होते हैं ? और यह शुभ होता है या अशुभ भारतीय संस्कृति में बुजुर्गों ने, शास्त्रों में ही बहुत बातों के बारे में बताया है।

जैसे शरीर के अलग-अलग हिस्सों का फड़कने का मतलब क्या है? और समुद्र शास्त्र में भी इसका विस्तारित रूप में वर्णन किया गया है। और स्त्री और पुरुष में यह अलग अलग होता है तो चलिए जानते हैं इसकी पूरी जानकारी।

आँख फड़कने का वैज्ञानिक कारण क्या है ?

आँख फड़कने का वैज्ञानिक कारण
आँख फड़कने का वैज्ञानिक कारण

आपने कई बार सुना होगा कि हमारे बड़े बुजुर्ग कहते हैं कि आँख फड़कना शुभ या अशुभ होता है। लेकिन इसके पीछे साइंटिफिक कारण भी है जैसे कि जब आपके आँख की मांसपेशियाँ एकत्रित हो जाती है, तो आँख फड़कने लगती है। और इसका मुख्य कारण यह होता है कि आप यदि ज्यादा भागदौड़ कर रहे हैं। और आपकी सेहत अच्छी नहीं है। या आप बहुत ज्यादा तनाव लेते हैं।

तभी भी आपके शरीर पर इसका प्रभाव पड़ता है। आपके शरीर के अंग फड़कने लगते हैं। और उसी में से एक हिस्सा है आँख जब आपकी आँख फड़कती है। कभी-कभी ऐसा होता है कि हम कुछ ना कुछ सोचते रहते हैं। और परेशानी से हैं और किसी चीज के बारे में बहुत ज्यादा तनाव लेते हैं। तभी हम एक ही तरफ देखते रहते हैं।

एक ही जगह पर बहुत समय तक देखते रहना यह भी एक कारण हो सकता है आँख फड़कने का और कई बार ऐसा होता है, कि कुछ काम की वजह से या भागदौड़ की वजह से हम नींद पूरी नहीं ले पाते हैं। इसकी वजह से भी आपकी आँख फड़क सकते हैं। इत्यादि वैज्ञानिक कारण है जिसकी वजह से आंख फड़कती है। तो चलिए जानते हैं शास्त्रों के अनुसार और बुजुर्गों के अनुसार आँख फड़कने की वजह।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार आँख फड़कने की वजह : (Eye blinking for female / Male astrology meaning)

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार आंख फड़कने की वजह
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार आंख फड़कने की वजह

आँख फड़कना यानी कि हमारा शरीर हमें आने वाले समय के बारे संकेत देता है कि, वह कैसा होगा अच्छा या बुरा। इसमें भी स्त्री और पुरुष की आँख फड़कने के संकेत में भिन्नता है।

दाहिनी आँख का फड़कना शुभ या अशुभ (right eye blinking for female means in hindi):

दाहिनी आँख का फड़कना शुभ या अशुभ
दाहिनी आँख का फड़कना शुभ या अशुभ

दाहिनी आँख फड़कना पुरुषों के लिए right eye blinking for male means शुभ माना जाता है। यानी कि आने वाला जो भी समय उसमें कुछ अच्छी बातें होने वाली है। और जो भी आप काम करेंगे उसमें सफलता प्राप्त होती है। जबकि  स्त्रियों के बारे में यह बिल्कुल विरुद्ध होता है। right aankh phadakna for female means दायी आँख फड़कने से और अशुभ संकेत होता है।

बाहिनी आँख का फड़कना शुभ या अशुभ (left eye blinking for female means in hindi):

बाहिनी आँख का फड़कना शुभ या अशुभ
बाहिनी आँख का फड़कना शुभ या अशुभ

स्त्रियों के बारे में अलग धारना है अगर उनकी बायी आँख फड़कती है। तो left eye blinking for female means वह शुभ संकेत माना जाता है। और उनका शरीर उनको शुभ घटना के बारे में संकेत देता है। जो भी वह काम करेंगे वह सफल होगा और उनको सफलता प्राप्त होगी। और उसी प्रकार अगर पुरुषों की बायी आँख फड़कती है तो यह पुरुषों के लिए अशुभ संकेत होता है। अगर पुरुषों की बायी आँख फड़कती है। तो उनकी किसी से दुश्मनी बढ़ सकती हैं। या किसी से झगड़ा हो सकता है।

अगर दोनों आँख फड़के तो यह शुभ संकेत है या अशुभ :

दोनों आंख फड़के तो
दोनों आंख फड़के तो

कई बार ऐसा होता है कि हमारी दोनों आंख फड़कने लगती है। अगर ऐसा होता है तो इसमें कोई भी दोराह नहीं है। स्त्री और पुरुष के लिए यह सामान संकेत माना जाता है। इसे कुछ ना कुछ शुभ संकेत प्राप्त होता है ऐसा माना जाता है।

आँख फड़कना रोकने का उपाय :

अगर आपकी आँख फड़क रही है, तो आपको एक रूई का टुकड़ा लेकर उसी पानी में भिगो के आंखों के पलकों पर रख लेना है। नहीं तो किसी कागज़ के टुकड़े को गीला करके आंखों पर रख लेना है।

यदि दोनों आँख फड़फड़ा रही है तो अपने हथेली पर अंगूठे से घसना है और वहां अंगूठा या उंगली आँख पर मसाज करनी है हल्के हाथों से। इससे आपका आँख फड़कना थोड़ी देर में रुक जाएगा।

इस प्रकार आँख फड़कने के शुभ और अशुभ संकेत आँख फड़कने के लिए बताए गए हैं। यह पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है। कि आप इसे मानते हैं या नहीं और किसी किसी को कई बार यह अनुभव भी होता है कि आँख फड़कने से उनके साथ कुछ शुभ या अशुभ संकेत होते हैं। या कभी नहीं होते हैं यह पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है। कि आप घटनाओं को कैसे संभालते हैं और कैसे सोच रखते हैं।

जानिए –

स्वप्न फल का मतलब हिंदी में

13 thoughts on “आँख का फड़कना शुभ होता है या अशुभ ? जानिए इसका कारण”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *