आधा दांत टूटने पर क्या करना चाहिए

नमस्ते दोस्तों, कैसे हो आप? आजकल दांतों की समस्या काफी बढ़ गई हैं। कई लोग अक्सर छोटी उम्र से ही दांतों की समस्या का सामना करते हैं। हम छोटे बच्चों को कैंडी, टॉफी, चॉकलेट दिलाते हैं और उनको वह सब खानी होती हैं। ज्यादा चॉकलेट और कैंडी खाने से छोटे बच्चों के दांतों में कैविटी लग सकती है और दांतों की समस्या उत्पन्न हो जाती हैं। इसी के साथ, बड़ों में भी पिज़्ज़ा, बर्गर, कोल्ड ड्रिंक्स जैसी दांतो को चिपकने वाली चीजें खाने से दांतों की समस्या उभर कर आती है। कई बार हमारा एक्सीडेंट हो जाता है या कहीं चोट लग जाती है तो आधा दांत टूट जाता है या दातों में दरार आ जाती है।

ऐसे में हम कभी कभी उसको ऐसे ही छोड़ देते हैं, हम उसका ठीक से इलाज नहीं कराते हैं। लेकिन, इससे समस्या और बढ़ सकती हैं। क्योंकि, दांत आधा टूटने से दांतो की नसें प्रभावित होती है और मसूड़ों तक झनझनाहट महसूस होती है। तो दोस्तों, आज हम जानेंगे दांत आधा टूटने के कारण, लक्षण और उसके ऊपर कुछ घरेलू इलाज। दांत टूटने पर आप कुछ घरेलू इलाज अपना सकते हैं। लेकिन फिर भी वह ठीक ना हो, तो तुरंत आप डॉक्टर की सलाह ले। डेंटिस्ट की सलाह लेने से आपके दांतों में आगे आनेवाली परेशानियों पर आप काबू कर सकते हैं।

आधा दांत टूटने के कारण

आधा दांत टूटने की कई वजह हो सकती हैं।

  1. खेल के दौरान चोट लगना, गिरना, फिसलना, वाहन की दुर्घटना या शारीरिक हिंसा में मुंह पर मारना आदि कारणों से दांत टूट जाते हैं।
  2. किसी कठोर वस्तु को दांतो से दबाना या जबड़े दबाने से भी आधा दांत टूट जाता है और दांतों में दरार पड़ जाते हैं।
  3. ज्यादा ठंडी चीजें खाने से भी दांतो में दरारें आ जाती हैं।
  4. दातों में लगी कैविटी के कारण भी दांत आधा टूट सकता है।
  5. मुंह में अचानक से तापमान का बदलाव होना। जैसे, ठंडी चीजें खाने के बाद तुरंत गर्म चीजों का सेवन करने से भी दांत कमजोर हो जाते हैं और क्षतिग्रस्त हो जाते हैं।
  6. अधिक मात्रा में तंबाकू उत्पादों का सेवन और मद्यपान करने से भी दांत कमजोर हो जाते हैं और आधे टूट सकते हैं।

आधा दांत टूटने के लक्षण

अगर आपके दातों में दरार आई है या वह आधा टूट गया है, तो ऐसे में कुछ भी खाते समय आपको दर्द महसूस होता है। वैसे तो, इसके लक्षण पता चल पाना मुश्किल होता है। फिर भी समय के साथ, इसके कई लक्षण उभर कर सामने आते हैं।

  1. ठंडी या गर्म चीजें खाने पर दांतो में झनझनाहट महसूस होना।
  2. खाना खाते समय प्रभावित दांत पर दर्द महसूस होना।
  3. प्रभावित दांत के आसपास के मसूड़ों में सूजन तथा जलन होना।
  4. मीठा खाने पर अति संवेदनशीलता महसूस होना और दर्द होना।
  5. दर्द का बार बार आना और अचानक से ठीक हो जाना। इसी के साथ, बहुत कम मामलों में लगातार दर्द महसूस होता है।

आधा दांत टूटने के घरेलू नुस्खे

वैसे तो, यह समस्या डॉक्टर के पास जाकर ही हल हो सकती हैं। क्योंकि, आधा दांत गिरने से समस्या कितनी गंभीर है; यह डॉक्टर के पास जाकर ही पता चलता है। लेकिन, अगर आपको हल्के से लक्षण महसूस हो रहे हो; तो आप कुछ घरेलू इलाज अपना सकते हैं। घरेलू इलाज करने के बाद भी अगर आपका दर्द ना जा रहा हो, तो आप तुरंत डेंटिस्ट की सलाह लें।

  1. लौंग- पुराने जमाने से बुजुर्ग लोग दांतों की समस्या के लिए लौंग का इस्तेमाल करते आ रहे हैं। लौंग में दर्द निवारक तत्व पाए जाते हैं। जिसका इस्तेमाल करने से हमारे दातों का दर्द कम होता है। इसी के साथ, लौंग में एंटीबैक्टीरियल तत्व मौजूद होते हैं। इसलिए, दातों में कीड़ा लगना या सूजन जैसी समस्याओं पर लौंग काफी प्रभावी साबित होता है।कॉटन बड लौंग के तेल में भिगोकर प्रभावित दांत पर रखें। कुछ देर बाद इसे निकाल लें। ऐसा दिन में २-३ बार करें। आधा दांत टूटने पर हो रही झनझनाहट, दर्द और मसूड़ों में सूजन इन तकलीफों से लौंग का तेल इस्तेमाल करने से काफी राहत मिलती है।
  2. लहसुन- लहसुन में एंटीबैक्टीरियल तत्व मौजूद होते हैं। लहसुन का इस्तेमाल आप प्रभावित दांत पर सीधे तौर पर कर सकते हैं। आधा टूटे हुए दांत पर या दांतों में दरार आने पर लहसुन का पेस्ट बना लें और उसे दातों पर रख लें। इससे दांत टूटने की वजह से हो रहे दर्द से आराम मिलता है। इसी के साथ, आप लहसुन के तेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  3. सेब का सिरका- सेब के सिरके का इस्तेमाल आप माउथवॉश की तरह कर सकते हैं। इससे दांत टूटने के दर्द से राहत मिलती है और किसी तरह का संक्रमण होने से बचता है।
  4. आइस पैक- आधे दांत टूटने पर या दातों में दरार आने पर कभी-कभी हमें बहुत दर्द महसूस होता है। इसके लिए आप आइस पैक का इस्तेमाल कर सकते हैं। आइस पैक की सिकाई करने से आपके दातों में हो रहा दर्द और मसूड़ों की सूजन कम होने में काफी लाभ मिलता है।
  5. अन्य उपाय- इसी के साथ, कुछ अन्य उपाय हैं जिनसे आपको लाभ मिल सकता है। जैसे, दालचीनी के पाउडर को हल्के गुनगुने पानी में मिला लें और उसे माउथवॉश की तरह इस्तेमाल करें। इससे आपके दातों में हो रहे दर्द से छुटकारा मिलेगा और दातों में किसी प्रकार का संक्रमण नहीं होगा। प्रभावित दात पर हींग का इस्तेमाल करने से भी दर्द से आराम मिलता है।
आधा दांत टूटने पर क्या करना चाहिए
आधा दांत टूटने पर क्या करना चाहिए

डॉक्टर की सलाह

दोस्तों, जैसे ही आपको पता चल जाए कि आपका आधा दांत टूटा हुआ है या दातों में दरारे आ रही है; तो आप तुरंत डेंटिस्ट की सलाह लें। क्योंकि, टूटे हुए दांत से आगे की परेशानियां बहुत ज्यादा बढ़ जाती हैं। डॉक्टर आपके लक्षणों की तीव्रता के आधार पर आपका ट्रीटमेंट करेंगे। जरूरत पड़ने पर डॉक्टर आपको दवाइयां देते हैं। डॉक्टर द्वारा बताए गए दिशा-निर्देशों का अच्छे से पालन करे। जब तक दांत ठीक ना हो जाए, तब तक डॉक्टर से सलाह मशवरा लेते रहे।

दोस्तों, आज के लिए बस इतना ही। उम्मीद है, आपको आज का यह ब्लॉग अच्छा लगा हो। धन्यवाद।

Leave a Comment

error: Content is protected !!